Learn SEO in HIndi from digital swati

Easily Learn SEO in Hindi tutorial 2017- समझे और सीखें

 यह Learn SEO in hindi tutorial के steps follow करने से आप की वेबसाइट का traffic और search engines में ranking दोनों increase होंगी।

 किसी  भी  ब्लॉग  का  traffic  increase  करने  के लिये   SEO  करना बहुत जरुरी है।

पर SEO सीखने से पहले यह जरुरी है कि आप यह जानते हो  –

1 . SEO क्या होता है ? 

2 .Google search engine काम कैसे करता है ? 

आज के time  मे  google   मे  हर रोज़ 10 लाख ब्लॉग पब्लिश होते है।

तो यह संभावना बहुत ज्यादा है के  हमारा Blog   इस भीड़  मे  खो जाये  और किसी को नज़र ही  न  आये ।

ऐसा न हो , इसके लिये जरुरी है की हम अपने  ब्लॉग का SEO  करे ताकि वह Google  के टॉप पर आये और उस पर  पर ज्यादा से ज्यादा visitors  आये।

Learn SEO in hindi tutorial
SEO करना सीखें।

SEO  kaise karte hai और  learn SEO tutorial in hindi

Learn SEO in Hindi language

Search Engine Optimization  हमारी वेबसाइट की organic  ranking  बढ़ाता है।

 इस को हम इस example  से  समझ  सकते हैं – जब हम Google  मे  कुछ search  करते  है  , तो हमारे पास जो page  खुल कर आता है उसे SERP कहते है  यानि Search  Engine  Result  Page .इस  पेज  पर दो तरह के result  होते है।

1 .  Inorganic results  –    जो advertisements  होते है और पैसे देकर वहा पर आते है ।

2     Organic  results –     जो वह पर बिना पैसे दिये आते है, पर इसके  लिये हमें Search  Engine  Optimization  करना होता है.

SERP पेज पर Organic और inorganic results   कुछ इस तरह दिखते है –

organic and inorganic listings ( learn SEO in hindi language )
Organic और inorganic results का उदहारण

 

सर्च इंजन ऑप्टिमिस्टिन से हम गूगल की organic results  में  top पर आ सकते हैं। और यह Learn  SEO  in  Hindi tutorial इसमें आपकी  मदद करेगा।

 SEO  kaise kare   Very  Simple

Learn SEO in Hindi language here.

किसी वेबसाइट  या Blog का  SEO  करने के लिये यह Steps follow करे –

main point digital swati 1 . अपनी नयी ब्लॉग को गूगल और बाकि search engines  में  submit  करें    Submit your website to Search engines –

अगर आप का blog या website नया  है तो सबसे पहले आप उसको सभी सर्च इंजिन्स जैसे – Google, Bing, Yahoo आदि पर submit करें।

जब आप google पर वेबसाइट submit करते है तो उसका सारा रिकॉर्ड गूगल के डेटाबेस में चला जाता हैं।

main point digital swati2.  अपनी वेबसाइट के लिये सही Keywords का चुनाव करें   Find keywords for your website –

Selecting right कीवर्ड्ज़ for SEO
सही keywords का चुनाव करना

 

सही keywords का प्रोयग Search  Engine  Optimization के लिये  सबसे जरुरी है।

उदहारण – अगर मेरा blog  बच्चो के toys पर है। तो मेरे कीवर्ड्स यह हो सकते है-  Toys for kids, toys for children, toys for boys, toys for girls, toys for one-year-old kids etc.

SEO field  में सफल होने के लिये हमे सही keywords चुनना आना चाहिए।

सही keyword  चुनने के लिये जिस सबसे जरुरी बात  का ख्याल रखना होता है वह हैं –  Good Traffic  एंड low  competition

इसके लिये हम Google Keyword Planner का use कर सकते है।  यह free tool  है।

main point digital swati3 .  Keywords का प्रोयग अपने Blog या Website मे करें   Use keywords at proper places o the blog –

Keywords select करने के बाद उनका प्रयोग इस तरह करें।

  • Page title में Keyword use करें.

    उदहारण – मेरे इस post का title है  ” Easily Learn SEO in Hindi 2017 सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते हैं? Latest tutorial for beginners”

  • Meta  Description  में keyword use  करें।

    मेरी इस पोस्ट का meta description है -“Learn SEO in Hindi -किसी भी वेबसाइट /Blog का traffic increase करने के लिये SEO करना बहुत जरुरी है। SEO के यह Steps follow करें और अपनी ranking increase करें “

  • Headings में  keywords का use करें।

    जैसे इस ब्लॉगपोस्ट की main heading  है “Learn SEO in Hindi”

  • Content में  keyword का ज्यादा प्रयोग न करे।

  • Page के Url  में  keyword use  करे।

    इस पेज का URL ” learn-SEO-in-Hindi-tutorial” है।

    आप को यह उदहारण बताने का मकसद यह है की जब भी आप कोई article read  करें तो उसे SEO के नजरिये से जरूर analyze करें।

     

     

    इस  Free Ebook ( 20 Tools for SEO ) में आप को कई ऐसे tools का पता चलेगा जो आप की SEO करने में मदद करेंगें।                                               

main point digital swati4 . अपनी वेबसाइट का sitemap  गूगल मे  submit करे   Submit sitemap of your website to Google –

sitemap creation
Sitemap create और submit करें।

 

Sitemap एक  .xml file  होती है।  इस file मे  हमारे blog की सभी जानकारी होती है।

इसकी  की मदद से Google के crawlers  हमारे blog के सभी जानकारी को अपने database  में  add कर लेता  है।

main point digital swati.  Blog की Images को optimize  करें   Optimize images of your blog or website –

image optimization
images को optimize करें।

 

Images optimize करना  बहुत हे जरुरी है।   अपने blog  में images  का प्रोयग जरूर करें।  हर इमेज के ALT  tag  में  keywords  का प्रयोग करे।

search  Engines  images  को पहचानते नहीं है , वह image  का वही नाम जानते है तो आप उनको alt  tag में  बताये।

main point digital swati6.  Blog  मे useful  content  डाले    Create High-Quality Content –

Blog  में Quality  content   हो तो बहुत chances  है  की search  engines भी उसे पसंद करेगे।

Content अच्छा  होने पर Returning  visitors भी increase  होते है।

main point digital swati 7.  ब्लॉग पर नियमित content डालें   Write content regularly –

अपनी ब्लॉग पर निमयत रूप से content  डालने से हमें SEO  करने में  काफी मदद मिलती है।

सर्च इंजिन्स को यह पता चलता है की यह ब्लॉग एक्टिव है और हमें internal  linking  के लिये भी content  मिल जाता है।

main point digital swati8 .  लंबी Blog  लिखें    Make your blog post lengthy –

छोटी blog  post  SEO  friendly  नहीं होती।  एक ब्लॉग काम से काम 1000 -2000 शब्दो का लिखें।  लंबी ब्लॉग के कई फायदे हैं।

लंबी ब्लॉग में हम ज्यादा information  readers  तक पहुँचा  सकते हैं। अपने इस SEO in hindi article में भी मैंने यही किया है।

हमारी site  पर  लोग ज्यादा समय बिताते है ,जो गूगल को यह बताता है के लोग हमारा content  पसंद कर रहे हैं।

एक लंबी blog  में हम बहेतर तरीके  से internal  linking भी  कर सकते हैं।

main point digital swati9 . सभी Blogs को आपस में internally  link  करें    Create internal linking –

internal linking
Internal linking बहुत powerful SEO strategy है।

 

अपनी Complete On-page SEO Guide में भी मैने जिन 35+ Techniques की बात करी है उनमें Internal linking बहुत बहुत important है l

Interlinking का बहुत ही अच्छा उदहारण  है wikipedia .   एक page  को दुसरे page  से जोड़ना ही internal  linking है।

एक अच्छी  internal  linked  site  google  को यह बताती है की यह साइट बहुत ही resourseful  है।

इस से हमारी सभी blog  post  को SEO  boost  मिलता है।  और यह तभी  possible  है जब हमारी site  पर  ज्यादा content  हो , जिसे आपस में  link  किया जा सके।

 

main point digital swati 10 .  अपने Content  को facebook  , twitter  जैसे social  sites  पर distribute करें    Distribute your content to all social media platforms –

Content डालना जितना important  है website  पर , उतना ही जरुरी है उस content  को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुँचना।

आज के इस competitive  time  में  हमें यह इंतज़ार नहीं करना की लोग हमें ढूंढे बल्कि हमें अपना content  उन तक  पहुँचना है।

बहुत सारी  Social Networking sites  है जहाँ लोग अपना समय बिताते है – जैसे – Facebook , Twitter , Pinterest , Instagram , LinkedIn Etc.

अपनी  blog  post  को इन सभी प्लेटफॉर्म्स पर publish  करें।

अरे……. आप मेरे इस post को शेयर करना तो भूल ही गये 😉

 main point digital swati11 . अपने blog  के backlinks बनाये    Create high quality and relevant backlinks –

Backlinks creation
Quality backlinks ही बनायें।

Backlinks  हमारे SEO में  बहुत हे important  है। Backlinks  बनाते समय हमें बहुत सारी  बातों  का ख्याल  रखना पड़ता  है।

सबसे पहले तो backlink  लते समय यह धयान रखे की जिस website  से आप link  ले रहे है वह site trustworthy  हो।

Backlinks  अपने field  से related  sites  से लेने  पर एक बहुत ही अच्छा effect  पड़ता  है हमारी SEO  ranking  पर।

उदहारण  – अगर मेरी साइट education से related है तो  .edu  domain  से backlink बहुत ही अच्छा रहेगा।

main point digital swati12 .  Blog  पर readers के comments  allow  करें  और उनका जवाब दें   Allow comments on your blog and interact with your readers

Comments  हमारी SEO ranking  को increase  करते है। अपने रीडर्स को encourage  करे की वह कमेंट करें और आप उनके comments  का reply करें।

यह आप के और readers के बीच एक विश्वास बनाएगा जो की एक blogger  के लिये बहुत ही जरुरी है।

just a minute ……….

क्या आप को पता है मै अपने सभी readers के comments का reply जरूर करती हूँ!

Try it out .

main point digital swati 13 . Social  media  plugins का इस्तेमाल करें  Use social Media plugins on your blog  –

जो लोग humare  ब्लॉग को पसंद करते है वह उसे औरों के साथ share भी कर पायें इस के लिये हम सोशल media  plugins  का इस्तेमाल करते हैं।

जब लोग हमारे blog  को share  करते  हैं  ,तो Google  यह जान जाता है की वह एक useful  post है और हमारे ranking search  results मे increase  हो जाती  है।

 

main point digital swati14. Blog  का  Title और Description  attractive  और meaningful  हो     Attractive title and description   –

गूगल की guidelines के अनुसार  सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में यह बहुत ही जरुरी है की हम अपने Meta  title और meta description पर बहुत ही धयान दें।

Impressive titles

 

इन में  हमें कीवर्ड्स का तो प्रोयग करना है।  साथ ही साथ उसे attractive  भी बनाना है।

ताकि गूगल सर्च करते समये लोगो  का धयान उस पर जाये और वह हमारी वेबसाइट पर click  करें।

यह भी धयान रखे की हमारा Title  और description  हमारे पेज से match करें।

अगर ऐसा नहीं हुआ तो visitors पेज के कंटेंट मे  interest  नहीं लेंगें  और वापिस चले जायंगे , जिस कारण  हमारा bounce  rate  increase  हो जायगा और रैंकिंग decrease .

 

main point digital swati15 . blog की speed increase  करें    Keep an eye on your blog speed  –

हमारे ब्लॉग की speed अगर slow है तो google search engine  हमारी ranking घटा देता है।

Google अपने users को best experience  देना चाहता है।  अगर साइट open   होने मे  time  लेगी तो visitors  वापिस चले जायंगे और हमारा bounce rate बड़ जायगा और google  में रैंकिंग घट  जायगी।

 

main point digital swati16.  अपनी  website  को सभी devices  के लिये responsive बनाये   Make your  website   responsive –

Google updates  के अनुसार अगर आप के वेबसाइट responsive  नहीं है तो वह सर्च इंजन रिजल्ट पेज में rank नहीं कर पाएगी।

आज कल अधिकतर लोग मोबाइल या टैबलेट  इस्तेमाल करते है और non -reesponsive  websites  उन पर सही से काम नहीं करती।

तो अगर आप का ब्लॉग या वेबसाइट या वेबसाइट मोबाइल responsive नहीं है तो उसे उसे responsive  बनायें।

main point digital swati

 

17. अपनी Domain लंबी अवधि के लिये खरीदें   Book your  Domain for longer period-

जो domains लम्बे समय के लिये purchase  करी जाती हैं वह SEO में  अच्छा Perform करती हैं। लम्बे समये के लिये domain  book  करने गूगल को यह बताता है की उस डोमेन का owner अपनी website को लेकर serious है।  अपनी डोमेन को 5 या 10 साल के लिये book करायें।

main point digital swati18. Google Analytics को अपनी वेबसाइट पर Install करें-

Google analytics की मदद से आप अपने SEO efforts को analyze कर सकतें हैं।

यह एक बहुत ही powerful tool है। Bounce rate, Time spent on the site by visitors, exit pages etc. की जानकरी  हम analytics से ले सकतें हैं।

अब आपकी बारी …

क्या आप को मेरी यह पोस्ट पसंद आयी?

अगर हाँ  तो please let me know.

और आपका कोई भी Questions है SEO से related, तो आप comments के जरिये पूछ सकतें हैं।

I love to answer comments 🙂

पसंद आया तो please share करें
Facebookgoogle_pluspinterestmail

171 thoughts on “Easily Learn SEO in Hindi tutorial 2017- समझे और सीखें”

  1. Dear swati thank you so much for these knowledge…can you tell me,how & where to use meta data ,keywords,content,ALT Tag In practically

    1. Thanks Avni.
      Your advice is good. I will soon be writing post on how to do all the SEO stuff practically.
      Please subscribe to my blog so that You can receive my future post.

    1. I have reviewed your website its a new site created this year in November and you are going good.
      I suggest you the following to improve your SEO-
      1. Execute Link Building Strategy.
      2. Your website’s ratio of text to HTML content is below 10 percent. Increase your content.
      3. Some images are lacking Alt attribute.
      4.Your website’s main keywords are not distributed well across the important HTML Tags of your website , so work on it.
      5. Reduce your site’s load time.
      Hope it helps.

Leave a Comment

You have to agree to the comment policy.